... BREAKING पत्रवार्ता : पहाड़ो में हरियाली के साथ होगी "काजू' और "चाय" की खेती ,"मैनपाट" के "मड़वा पहाड़" से मंत्री "अमरजीत भगत" ने शुरु की पहल

BREAKING पत्रवार्ता : पहाड़ो में हरियाली के साथ होगी "काजू' और "चाय" की खेती ,"मैनपाट" के "मड़वा पहाड़" से मंत्री "अमरजीत भगत" ने शुरु की पहल




योगेश थवाईत
सरगुज़ा 3 अगस्त 2019 (पत्रवार्ता) छत्तीसगढ़ प्रदेश सरकार के मंत्री अमरजीत भगत ने सरगुजा के शिमला कहे जाने वाले मैनपाट के पहाड़ों को फिर से हरा भरा कर सुन्दर बनाने की अनूठी शुरुआत की है

मंत्री अमरजीत भगत पहाड़ बचाओ अभियान में शामिल होने के लिए जिला मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर मैनपाट के तराई  में स्थित बरगई गाँव पंहुचे जहाँ अमरजीत भगत ने पहाड़ महोत्सव में शामिल सभी बच्चों को वन,पहाड़ और पर्यावरण की रक्षा का संकल्प दिलाया,पौधारोपण करने के साथ बच्चों ने रोपित पौधों को बचाने का संकल्प भी लिया


उल्लेखनीय है कि बरगईं और बरगवां के मड़वा पहाड़ पर शिक्षाकुटीर सोसाइटी,वन विभाग व होलीक्रास स्कूल के संयुक्त प्रयास से पहाड़ महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया था जिसमें संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने शिरकत की।यहाँ 300 बच्चों ने पहाड़ बचाने का संकल्प लियासभी बच्चे होलीक्रास स्कुल अंबिकापुर साइंस क्लब और हेल्थ क्लब के सदस्य थेबच्चों ने पहाड़ को बचाने के लिए पहाड़ पर लगभग डेढ़ हज़ार पौधे लगाए और 4 साल से चलाए जा रहे पहाड़ बचाओ अभियान से जुड़कर काफी खुश हुए

उक्त अवसर पर मंत्री अमरजीत भगत ने बच्चों को पहाड़-मित्र का सम्मान दिया और कहा "यह अनूठा और प्रेरित करने वाला कार्य है "मुझे खुशी है जहाँ यह आयोजन हो रहा वह मेरे विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा है मैनपाट की तराई बरगई गाँव से मेरा जुड़ाव रहा हैयहाँ मड़वा रानी पहाड़ को बचाने की जो कोशिश संस्था  व तमाम लोगों के द्वारा की जा रही है यह अपने आप में काबिले तारीफ़ है

अमरजीत ने बताया कि आज जिस तरह से पूरा विश्व जलवायु परिवर्तन के संकट से जूझ रहा है उस स्थिति में हमें जल,जगंल,जमीन, पहाड़ को बचाना होगायही हमारी असल पूंजी है। उन्हें सबसे ज्यादा खुशी इस बात की है कि पहाड़ बचाने के इस मुहिम में बरगई के ग्रामीणों के साथ प्रमुख रूप से शिक्षा कुटीर संस्था में पड़ने वाले आदिवासी बच्चे प्रयासरत हैं और आज इस अभियान में होलीक्रास स्कूल भी शामिल हो गया है।


अमरजीत ने संस्था को इसके लिए बधाई देते हुए कहा कि पर्यावरणीय पाठशाला के रूप में संचालित शिक्षा कुटीर जैसी संस्था छत्तीसगढ़ की जरूरत है ऐसी संस्थाओं को सरकार पूरी मदद करेगीइसके साथ अमरजीत भगत ने अपने स्वेच्छानुदान मद से पहाड़ बचाओ अभियान में शामिल संस्था व शिक्षा कुटीर को 25 हजार रूपये देने की घोषणा भी की

मैनपाट की सुन्दरता को बढ़ने के साथ यहाँ रोजगार के अवसर सृजित हों इसके लिए उन्होंने मैनपाट में चाय की खेती शुरु किए जाने की बात कही वहीँ डीएफओ ने बताया कि यहाँ काजू के भी वृक्ष लगाए जाएंगे जिससे लोगों को रोजगार भी मिलेगा 

अमरजीत ने की पत्रकारों की तारीफ़ 
पहाड़ महोत्सव के अवसर पर मंत्री अमरजीत भगत ने बच्चों की जमकर हौंसला अफज़ाई की वहीँ उन्होंने कहा कि इस कार्य से कुछ पत्रकार साथी विशेष रूप से जुड़े हुए हैंपत्रकारों का सामाजिक कार्यों में इस तरह ज़मीनी स्तर पर जुड़कर काम करना लोकहित में बेहतर कदम है।उन्होंने पत्रकारों को बधाई देते हुए उन्हें सतत लोकहित की दिशा में कार्य किये जाने की बात कही


Post a Comment

0 Comments