... फल-सब्जी मंडी के लिए 10 करोड़ रूपए स्वीकृत,पत्थलगांव के मदनपुर में होगा निर्माण

फल-सब्जी मंडी के लिए 10 करोड़ रूपए स्वीकृत,पत्थलगांव के मदनपुर में होगा निर्माण

रायपुर (पत्रवार्ता) राज्य सरकार ने जशपुर जिले के पत्थलगांव क्षेत्र में फलों तथा सब्जियों की अच्छी खेती को देखते हुए पत्थलगांव के मदनपु में सुविधायुक्त फल-सब्जी मंडी खोलने का निर्णय लिया है। कृषि मंत्री तथा छत्तीसगढ़ राज्य कृषि विपणन (मंडी) बोर्ड के अध्यक्ष बृजमोहन अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित बोर्ड के संचालक मंडल की बैठक में ''मदनपुर फल-सब्जी मंडी के लिए लगभग 10 करोड़ रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई है। '' 
इस राशि में से 50 प्रतिशत राशि अनुदान के रूप में, 35 प्रतिशत राशि ब्याजमुक्त ऋण के रूप में तथा शेष 15 प्रतिशत राशि राज्य विपणन विकास निधि और मंडी निधि से दी जा रही है।   कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने बताया कि पत्थलगांव क्षेत्र की पत्थलगांव, कांसाबेल और बगीचा तहसील में टमाटर, मिर्च, आलू, कटहल सहित विभिन्न प्रकार के फलों की खेती किसानों द्वारा की जाती है। उपजाऊ जमीन और अनुकुल मौसम होने के कारण यह क्षेत्र फलों और सब्जियों के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है।

''क्षेत्र में समुचित बाजार व्यवस्था नहीं होने के कारण कई बार किसानों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। राज्य सरकार ने किसानों के हित में पत्थलगांव मंडी समिति के अंतर्गत मदनपुर में फल सब्जी मंडी खोलने का निर्णय लिया है। ''

इसके लिए चार हेक्टेयर से ज्यादा सरकारी जमीन आवंटित की जा चुकी है। मदनपुर  में फल सब्जी मंडी शुरू करने के लिए चिन्हांकित स्थान पर सर्वे करके ले-आउट प्लान और ड्राइंग डिजाइन तैयार कर ली गई है।
श्री अग्रवाल ने बताया कि इस प्लान की भवन सुविधाओं में कार्यालय भवन, विश्राम गृह एवं डायनिंग, होलसेल शॉप, रिटेल शॉप, टायलेट कैंटिन तथा कव्हर्ड आक्शन शेड बनाये जा रहे हैं। मदनपुर मंडी परिसर में बाहरी सुविधाओं के अंतर्गत पाथवे, आरसीसी ड्रेन, कल्वर्ट, बोरवेल, रेनवाटर हार्वेटिंग, सम्पवेल, पम्परूम, सेप्टिक टैंक, उद्यान, हैवी व्हीकल पार्किंग, लाईट व्हीकल पार्किंग, कुलिंग और रिपेयनिंग चैम्बर और ओव्हर हैड टैंक तथा सम्पवेल का निर्माण किया जाएगा।
साभार – जनसंपर्क

Post a comment

0 Comments